कोरोना पीड़ित अफसरों को तवज्जो की बातों से भड़के सीएम शिवराज, बोले- अफवाहबाजों पर होगी कार्रवाई

सीएम के ट्वीट के जवाब में पोस्ट हुए आईएएस पल्लवी जैन की फोटो

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना के विकराल होने के बीच इससे संक्रमित आला अफसरों को मिल रही तवज्जो की सोशल मीडिया पर चल रही खबरों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को नाराज कर दिया है। सीएम ने ट्वीट कर इन खबरों को अफवाह बताया है और ऐसी खबरें चलाने वालों को असमाजिक तत्व। उनके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की चेतावनी भी उन्होंने दी है।

शिवराज सिंह ने ट्विटर पर कहा है कि कुछ लोग ऐसी अफ़वाहें फैला रहे हैं कि प्रदेश के #COVID19 से संक्रमित कुछ अधिकारियों को देखभाल में ज़्यादा तवज्जो दी जा रही है और बाक़ी लोगों को सही इलाज नहीं दिया जा रहा है।

मेरे लिए प्रदेश का हर एक व्यक्ति एक समान है, हर एक नागरिक भगवान है!कुछ असामाजिक तत्व क़ानून-व्यवस्था को लेकर तरह-तरह की अफ़वाह फैला रहे हैं।
किसी की मृत्यु होने की झूठी खबरें तक फैलाई जा रही हैं!

मित्रों, कृपया सच जाने बग़ैर किसी भी तरह की अफ़वाह न फैलाएँ। ये समाज के लिए, प्रदेश के लिए और देश के लिए कदापि ठीक नहीं है।किसी भी प्रकार की अफ़वाहें फैलाना कानूनन अपराध है और हमें इसके लिए दंडात्मक कार्रवाई करने हेतु बाध्य होना पड़ेगा!

  1. अपने मोबाइल में आने वाले हर संदेश की जाँच करें और संशय होने पर उसे रिपोर्ट करें। आप के सहयोग से ही हम प्रदेश को इस आपदा से बाहर निकाल पाएँगे। 

 

सीएम को जवाब में मिली IAS फोटो

मुख्यमंत्री द्वारा अफसरों को विशेष महत्व देने सम्बंधी खबरों को झूठा बताने के जवाब में उन्हें किसी ने एक फोटो ट्वीट की है। सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल उमराव का ट्वीट री-ट्वीट किया गया है। इसमें स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव पल्लवी जैन गोविल अपने घर की बाउंड्री में बैठ कर कोरोना टेस्ट के लिए सेंपल देती दिख रही हैं। बता दे कि पल्लवी जैन सहित स्वास्थ्य विभाग के 40 से अधिक अधिकारी कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। यह संख्या भोपाल के कुल कोविड मरीजों की लगभग आधी है

Leave a Reply