मंत्रिमंडल विस्तार में देरी पर कांग्रेस ने भाजपा पर तंज कसा, इमरती देवी बोली, ‘कांग्रेस ज्यादा भड़-भड़ा रही उपचुनाव के लिए ढूंढ़ने से भी आदमी नहीं मिल रहे

मध्यप्रदेश में उपचुनाव को लेकर सियासी गलियारों में चर्चा तेज है. सिंधिया समर्थकों को मंत्री बनाए जाने को लेकर अटकले लगाई जा रही हैं. इन सब के बीच पूर्व मंत्री इमरती देवी ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात की. जिसे लेकर अलग-अलग राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं.

ग्वालियर चंबल अंचल पर अब तक केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का ही प्रभाव रहा है. बता दें कि कांग्रेस की ओर से ज्योतिरादित्य सिंधिया हमेशा उन्हें टक्कर देते आए थे. अब दोनों ही एक दल में हैं. ऐसे में सिंधिया समर्थक जनप्रतिनिधि केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का भी पूरी तरह से समर्थन एवं विश्वास जीतना चाहते हैं. यही वजह है कि इमरती देवी केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात करने दिल्ली पहुंच गईं.

इन सब पर इमरती देवी का कहना है कि उन्होंने जनप्रतिनिधि होने के चलते केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात की है. उनका कहना है कि उन्होंने ज्योतिरादित्य सिंधिया से भी मुलाकात की. इमरती देवी के अनुसार डबरा को जिला बनाने, केंद्रीय विद्यालय, डैम-नहर एवं किसानों के विकास के लिए आवश्यक सभी आवश्यक मुद्दों पर चर्चा के लिए वह दिल्ली गई थीं.

इमरती देवी ने कहा कि इस मुलाकात को मंत्रिमंडल विस्तार से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए. वह भारतीय जनता पार्टी में कार्यकर्ता बनकर भी काम कर सकते हैं. उन्हें मंत्री पद की लालसा नहीं है.

इमरती देवी के अनुसार उन्होंने कभी नहीं कहा कि मंत्रिमंडल का विस्तार जल्द हो सकता है और उन्हें मंत्री बनाया जाएगा. ऐसे में वह कार्यकर्ता बनकर ही लोगों की सेवा करना चाहती हैं.

कैबिनेट विस्तार में हो रही देरी पर इमरती देवी का जवाब
कैबिनेट विस्तार में हो रही देरी पर इमरती देवी का कहना है कि हमारे वरिष्ठ नेता का नेतृत्व हो जाने के बाद ही मंत्रिमंडल का विस्तार हो जाएगा. जिससे पार्टी आज भी चल रही है और कल भी चल सकेगी.

कांग्रेस को बताया डूबी हुई नाव
बता दें कि मंत्रिमंडल विस्तार में हो रही देरी पर कांग्रेस ने भाजपा पर तंज कसा था. इसपर इमरती देवी ने जुबानी हमला करते हुए कहा, ‘कांग्रेस ज्यादा भड़-भड़ा रही है, क्योंकि उन्हें आगामी उपचुनाव के लिए ढूंढ़ने से भी आदमी नहीं मिल रहे हैं. जो चुनाव में भाजपा को टक्कर दे सके. क्योंकि डूबी हुई नाव में कोई बैठना नहीं चाहता है.’

आपको बता दें कि कांग्रेस ने लॉकडाउन के पीरियड में एक स्थान से दूसरे स्थान जाकर लोगों से मेल मिलाप जारी रखने पर भाजपा पर सवाल उठाए थे. इसे लेकर इमरती देवी का कहना है कि क्या कांग्रेस के लोग अपने नेताओं से मुलाकात करने एक स्थान से दूसरे स्थान नहीं जा रहे हैं. इमरती देवी ने कहा कि लोगों से मेल मिलाप करने पर यदि कांग्रेस को दिक्कत है तो वह कलेक्टर से शिकायत कर सकते हैं.

Leave a Reply