लेफ्ट और कांग्रेस के गठबंधन पर PM मोदी ने कसा तंज, बोले- ‘काला हाथ आज गोरा कैसे हो गया?’

पश्चिम बंगाल में कोलकाता के ब्रिगेड परेड ग्राउंड में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने लेफ्ट और कांग्रेस के गठबंधन पर तंज कसते हुए कहा, “काला हाथ आज गोरा कैसे हो गया?”

पीएम मोदी ने लेफ्ट पार्टियों पर निशाना साधते हुए कहा, “अपने 3 दशक के कार्यकाल में जिस हाथ को काला मानते थे आज उसे कैसे गोरा मान लिया? जिस हाथ को तोड़ने की बात लेफ्ट करता था आज उसी का आशीर्वाद ले लिया।”

प्रधानमंत्री ने कहा, “आजादी के नारे पर कांग्रेस सत्ता में आई थी, आजादी के बाद कुछ समय काम हुआ लेकिन फिर बंगाल पर वोट बैंक की राजनीति हावी होती चली गई। इस राजनीति को वामपंथियों ने और बढ़ाया और नारा दिया- ‘कांग्रेसेर कालो हाथ, भेंगे दाओ, गुड़िये दाओ।’ आज ये काला हाथ गोरा कैसे हो गया।”

उन्होंने सवाल किया कि क्या बंगाल के युवाओं के रोजगार की स्थिति में परिवर्तन आया? क्या बंगाल के औद्योगीकरण में वो परिवर्तन आया, जितना उसका सामर्थ्य है? क्या दशकों से चली आ रही खून-खराबे की राजनीति में परिवर्तन आया? वामपंथियों के विरुद्ध ममता दीदी ने परिवर्तन का नारा दिया था। पश्चिम बंगाल से मां, माटी, मानुष के लिए काम करने का वादा किया था। पिछले 10 साल से यहां  टीएमसी की सरकार है, क्या सामान्य बंगाली परिवार के जीवन में वो परिवर्तन आया, जिसकी उसे अपेक्षा थी?

उन्होंने कहा, “आज बंगाल का मानुष परेशान है। वो अपनी आंखों के सामने अपनों का खून बहता देखता है। वो अपनों को अपनी आंखों से सामने लुटते देखता है। वो अपनों को इलाज के अभाव में दम तोड़ते देखता है। वो अवसरों के अभाव में अपनों को पलायन करते देख रहा है। और पूरा बंगाल अब एक स्वर में कह रहा है- आर नॉय,आर नॉय।”

टीएमसी सरकार पर कमीशनखोरी का आरोप लगाते हुए पीएम ने कहा कि माटी की बात करने वालों ने बंगाल का कण-कण, तिनका-तिनका, बिचौलियों, कालाबाजारी करने वालों और सिंडिकेट के हवाले कर दिया। आज बंगाल का मानुष परेशान है। वो अपनी आंखों के सामने अपनों का खून बहता देखता है। वो अपनों को अपनी आंखों से सामने लुटते देखता है।

इसके अलावा प्रधानमंत्री ने विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए यह भी कहा कि इस बार के विधानसभा चुनाव में एक तरफ TMC, लेफ्ट और कांग्रेस है, उनका बंगाल विरोधी रवैया है, और दूसरी तरफ खुद बंगाल की जनता कमर कसकर खड़ी हो गई है।

आपको बता दें कि इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी कहा कि बंगाल के विकास के लिए अगले 25 साल अहम है। डबल इंजन लगा तो विकास की राह में रोड़ा कम होगा। बंगाल में टी से टूरिजम तक पर जोर दिया जाएगा। कोलकाता को सिटी ऑफ फ्यूचर बनाएंगे। बंगाल में नौकरी की भी पारदर्शी व्यवस्था होगी। पुलिस, प्रशासन पर जनता का भरोसा दोबारा लाएंगे। इंजीनियरिंग और मेडिकल की पढ़ाई बांग्ला भाषा में भी होगी।

दरअसल पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव नजदीक हैं। ऐसे में प्रदेश में चुनावी सरगर्मी तेज है। कई बड़े नेता लगातार राज्य में चुनावी रैलियां कर रहे हैं। इस बीच आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी कोलकाता पहुंचे हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने खुद ट्वीट कर यह जानकारी लोगों के साथ साझा की है। इस बीच प्रधानमंत्री मोदी ने कोलकाता के ब्रिगेड परेड ग्राउंड में चुनावी रैली को संबोधित भी किया।

Leave a Reply