सरकार को आर्थिक पैकेज पर फिर से विचार करने की सलाह बोले राहुल- गरीबों-मजदूरों की जेब में पैसे डालिए

कोरोना वायरस संकट और लॉकडाउन के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्थानीय पत्रकारों से बातचीत की। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा पर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि मैं कोई राजनीतिक बयान नहीं दे रहा हूं, बल्कि पूरे देश की तरफ से बोल रहा हूं। उन्होंने कहा कि सरकार को आर्थिक पैकेज पर दोबारा विचार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रोत्साहन पैकेज की शुरुआत करके सरकार ने एक अच्छा कदम उठाया है, लेकिन इसमें जरूरतमंदों, प्रवासी मजदूरों, किसानों की जेब में पैसा डालने पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए।

राहुल गांधी ने जरूरतमंदों की मदद के लिए  डायरेक्ट ट्रांसफर की पहल करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि हम लोगों के हाथ में सीधे पैसे थमाएं। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि स्थानीय पत्रकारों ने प्रवासी मजदूरों की समस्याओं और इस संकट को अच्छे से कवर किया।

राहुल गांधी ने क्षेत्रीय मीडिया से कहा कहा कि सरकार को अपने बच्चों को कर्ज देकर साहूकार की तरह बर्ताव नहीं करना चाहिए, उसे गरीबों के बैंक खातों में पैसे डालना चाहिए। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पैकेज पर पुनर्विचार करना चाहिए और गरीबों को धन देकर मांग बढ़ानी चाहि।

इससे पहले यूपी के औरैया में सड़क हादसे में मजदूरों की मौत पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी दुख जताया। राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘उतर प्रदेश के औरैया में सड़क हादसे में 24 मजदूरों की मौत और अनेक लोगों के घायल होने की खबर से आहत हूं। मृतकों के परिवारों के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।’

Leave a Reply