स्ट्रेस बस्टर का काम करने स्पंदन अभियान, जवानों को तनाव दूर करने सरकार की कोशिश,spandan campaign to work as a stress buster cg government tries to relieve stress form soldiers | raipur – News in Hindi


स्ट्रेस बस्टर का काम करने स्पंदन अभियान, काउंसिलिंग के साथ अब जवान करेंगे योग

सीएम भूपेश बघेल के निर्देश पर अभियान शुरू किया जा रहा है.

डीजीपी डीएम अवस्थी ने इस संबंध में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों और मनोवैज्ञानिक की उपस्थिति में विस्तृत बैठक कर एक कार्य योजना तैयार की. सरकार ने इस कार्य योजना को अभियान के तहत चलाने के लिए स्पंदन नाम दिया गया है.

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) के निर्देश पर अमल करते हुए राज्य पुलिस ने जवानों को अवसाद और तनाव से बचाने के लिए स्पंदन अभियान की शुरुआत कर दी है. डीजीपी डीएम अवस्थी ने इस संबंध में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों और मनोवैज्ञानिक की उपस्थिति में विस्तृत बैठक कर एक कार्य योजना तैयार की. सरकार ने इस कार्य योजना को अभियान के तहत चलाने के लिए स्पंदन नाम दिया गया है. यह योजना प्रदेश में तत्काल प्रभाव से लागू हो गई है. इस संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश सभी पुलिस अधीक्षकों और सेनानियों को जारी कर दिए गए हैं.

मालूम हो कि सीएम भूपेश बघेल ने पुलिस जवानों में बढ़ते अवसाद और तनाव को लेकर गहरी चिंता व्यक्त की थी. डीजीपी को निर्देश दिए थे कि इस संबंध में छत्तीसगढ़ पुलिस एक कार्य योजना बनाए जिससे कि जवानों में उत्पन्न हो रहे मानसिक अवसाद को दूर किया जा सके और इससे होने वाली हिंसक घटनाओं  को रोका जा सके. मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिए थे कि इसके साथ ही जवानों के लिए योगा क्लासेस तथा मनोवैज्ञानिक से काउंसिलिंग भी आयोजित किए जाएं.

कैसा होगा अभियान स्पंदन

स्पंदन अभियान के तहत सभी पुलिस अधिकारी पुलिस लाइन, थानों और सशस्त्र बल की कंपनियों का भ्रमण कर जवानों के साथ समय व्यतीत करेंगे और उनकी समस्याओं से रूबरू होंगे. साथ ही सेनानियों को माह में एक बार प्रत्येक कंपनी में रात्रि विश्राम करने के निर्देश दिए गए हैं. इसी तरह से पुलिस अधीक्षकों को भी सभी थानों एवं पुलिस लाइनों में भ्रमण कर जवानों की समस्याएं सुनने निर्देशित किया गया है. स्पंदन अभियान में रायपुर पुलिस मुख्यालय में डीजीपी द्वारा जिला पुलिस बल और सशस्त्र बल के अधिकारियों और कर्मचारियों से मिलने के लिए माह में 2 बार स्पेशल इंटरेक्टिव प्रोग्राम चलाया जाएगा. इसके तहत इनसे डीजीपी खुुद चर्चा करेंगे. इसके अलावा सभी दुर्गम इलाकों से लगे हुए कैम्पों में मनोविज्ञानी, म्यूजिक थेरेपी, योग शिक्षा, खेलकूद, लाइब्रेरी की व्यवस्था तत्काल प्रभाव से की जाएगी. सभी रेंज के आईजी को भी अपने रेंज में तत्काल स्पंदन अभियान शुरू करने को कहा गया है ताकि इससे जवानों को सहूलियत मिल सके.ये भी पढ़ें: 

BJP प्रवक्ता संबित पात्रा को रायपुर पुलिस ने भेजा तीसरा नोटिस, 8 जून को पेश होने कहा

Unlock 1 में लापरवाह हुआ ‘हॉटस्पॉट’ कोरबा, कहीं थूकते तो कहीं धुएं का छल्ला बनाते दिखे लोग  

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: June 4, 2020, 6:15 AM IST





Source link

Leave a Reply