BJP raised illegal sand mining issue in the House, serious allegations against the government


विधानसभा सत्र में अवैध रेत खनन का मुद्दा उठा.

विधानसभा सत्र में अवैध रेत खनन का मुद्दा उठा.

Raipur News: छत्तीसगढ़ विधानसभा (Chhattisgarh Assembly) सदन में बुधवार को अवैध रेत खनन का मुद्दा गूंजा, जिसमें बीजेपी (BJP) ने शून्यकाल में स्थगन प्रस्ताव लाया.

रायपुर. छत्तीसगढ़ विधानसभा (Chhattisgarh Assembly) सदन में बुधवार को अवैध रेत खनन का मुद्दा गूंजा, जिसमें बीजेपी (BJP) ने शून्यकाल में स्थगन प्रस्ताव लाया. स्थगन प्रस्ताव स्वीकार किया जाए या नहीं इस पर चर्चा के दौरान बीजेपी विधायक शिवरतन शर्मा ने कहा- प्रदेश में रेत का अवैध उत्खनन किया जाएगा. लोगों के पास महंगा रेत खरीदने के सिवाय कोई विकल्प नहीं है. मामले में बीजेपी विधायक अजय चंद्राकर ने कहा- एनजीटी के नियमों का पालन नहीं हो रहा है. सरकार रेत माफिया को निर्देशित कर रही है या रेत माफिया सरकार को निर्देशित कर रहे हैं. सरकारी संरक्षण में रेत का अवैध उत्खनन हो रहा है. अधिकारी झांकने नहीं जाते.

जेसीसीजे विधायक धर्मजीत सिंह ने कहा- सरकारी संरक्षण में सत्ता पक्ष के लोग रेत का अवैध उत्खनन कर रहे हैं. रेत के नाम पर जंगलराज कायम हो गया है. शराब माफिया पहले से सक्रिय हैं. अधिकारी ट्रांसफर के डर से उन्हें कुछ नहीं बोलते. पूर्व सीएम रमन सिंह ने इसे गंभीर मामला बताते हुए कहा कि- नियम कायदों को ताक पर रखा जा रहा है. हाल ये है कि अवैध रेत उत्खनन की वजह से शिवनाथ नदी की दिशा बदल रही है. पुलिस-प्रशासन के संरक्षण में रेत का अवैध उत्खनन हो रहा है. सारे शराब के गुंडे रेत पर उतर चुके हैं. इस विषय पर चर्चा होनी चाहिए.

नेता प्रतिपक्ष ने भी उठाए सवाल
नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा- अवैध उत्खनन को प्रोत्साहित करने के लिए टेंडर की प्रक्रिया की गई है. पूरे प्रदेश में रेत का अवैध उत्खनन हो रहा है. अधिकारी की हिम्मत नहीं है कि घाट पर जाकर कार्रवाई करें. गांव वालों के खिलाफ माफिया बर्बरता पूर्वक व्यवहार कर रहे हैं. इस चर्चा के बाद आसंदी ने स्थगन की सूचना को  विचाराधीन रखा और फिर असंतुष्ट विधायकों ने सदन में जमकर नारेबाजी की. नारेबाजी के बीच आसंदी ने व्यवस्था देते हुए कहा कि- किसी न किसी माध्यम से इस विषय पर चर्चा कराई जाएगी.









Source link

Leave a Reply